"मित्र पुलिस के जवानों ने असहाय युवक को नहलाकर खिलाया भरपेट खाना

उत्तराखंड रुद्रप्रयाग: "मित्र पुलिस के जवानों ने पेश की मानवता की मिसाल असहाय युवक को नहलाकर खिलाया भरपेट खाना"


इंसान वही है जो दूसरों के काम आए, दूसरों के दुखों को बाँट सके, उसकी सहायता और कल्याण कर सके। इंसानियत का यही जज्बा देखने को मिलता है Uttarakhand Police के जवानों में। कई बार गरीबों, कमजोरों और असहाय लोगों के लिए पुलिस की मदद वरदान साबित हो जाती है। कुछ ऐसा ही उदाहरण रूद्रप्रयाग में देखने को मिला, जहां गश्त के दौरान रूद्रप्रयाग बाजार में पुलिसकर्मियों को एक व्यक्ति मिला, जो अपने शरीर पर काफी मात्रा में कूड़े से सनी पन्नी लपेटे हुए था। पूछताछ में पता चला कि युवक का नाम हरिया है और वह बिहार का रहने वाला है। यहां भीख मांगकर किसी तरह अपना गुजारा कर रहा था। पहनने के लिए कपड़े नहीं थे और ठंड से बचने के लिए अपने शरीर पर पन्नियां लपेटे हुए था। पुलिसकर्मी युवक को अपने साथ थाने ले आए, जहां पर युवक को स्वयं नहला धुला कर उसके बाल और दाढ़ी को काटकर उसे साफ सुथरा बना कर गंदगी से मुक्त कराया। उसके बाद युवक को साफ सुथरे कपडे पहनाकर भरपेट खाना भी खिलाया। नए कपड़े पहनकर युवक बहुत खुश हुआ और पुलिसकर्मियों का आभार व्यक्त करने लगा।


मेट्रो युग
हिंदी मासिक पत्रिका
https://metroyug.page
मेल: gnfocus@gmail.com  कॉल: 8826634380


Popular posts